बराबरी की साझेदारी में आप पर ही कुछ सवाल उठ सकते हैं। कुछ लोग आपका खुला विरोध करते हैं, तो अपनी बात सही साबित कराने पर बहुत ज्यादा जोर न दें। अपनी राय दूसरों पर थोपने की कोशिश भी न करें।